Sabiya Saifi: Delhi की बेटी Sabia Saifi का Gang Rape और Murder-पूरी सच्चाई

दिल्ली (Delhi) के संगम विहार (Sangam Vihar) में 26 अगस्त को 21 वर्षीय दिल्ली सिविल डिफेंस (Delhi Civil Defence) कर्मचारी sabia saifi का अपहरण, बलात्कार और बेरहमी से हत्या कर दी गई.

परिवार का आरोप है कि 26 अगस्त की शाम को पीड़िता साबिया (Sabiya) (बदला हुआ नाम) का उसके ऑफिस से अपहरण कर लिया गया और उसे फरीदाबाद ले जाया गया जहां उसके साथ बलात्कार किया गया और उसकी चाकू मारकर हत्या कर दी गई.

पीड़िता की लाश को जब देखा गया तो उसके मुंह पर चाकू के निशान मिले, उसका शरीर क्षत-विक्षत था और उसके स्तन कटे हुए थे.

पीड़िता का शव फरीदाबाद पुलिस को मिला, जिसने पोस्टमॉर्टम के बाद परिवार को सौंप दिया. हालाँकि मेडिकल रिपोर्ट आना अभी बाकी है.

परिवार ने पीडिता के दो सहयोगियों पर जघन्य अपराध में शामिल होने का आरोप लगाया है, जिन पर उनका आरोप है कि वे फरार हैं और उनका पता नहीं चल रहा है.

परिवार ने आरोप लगाया कि उन्होंने दोनों के खिलाफ शिकायत दर्ज करने के लिए संगम विहार पुलिस स्टेशन का दरवाजा खटखटाया, लेकिन पुलिस ने उनकी शिकायत को दर्ज करने से इनकार कर दिया.

परिवार सीबीआई जांच और निष्पक्ष जांच की मांग को लेकर संगम विहार में एक सप्ताह से अपने घर के बाहर प्रदर्शन कर रहा है.

पीड़िता के काज़ेन (sabiya saifi brother) ने अपने परिवार की पीड़ा के बारे में बताते हुए कहा, “वह चार महीने पहले ही काम पर आई थी। हमेशा की तरह वह 26 तारीख को ऑफिस गई लेकिन घर नहीं लौटी.

उसने हमें रात करीब 8 बजे फोन किया, जिसे हम रिसीव नही कर पाए. जब हमने उसे काल बैक की कोशिश की तो उसका नंबर स्विच ऑफ था.

हम चिंतित हो गए और हमने उसके ऑफिस में अंदर जाने की कोशिश की, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ, उन्होंने हमें अंदर नहीं जाने दिया.

ऑफिस के गार्ड ने आगंतुक रजिस्टर दिखाने से यह कहते हुए इनकार कर दिया कि उसे कार्यालय के व्यक्तिगत दस्तावेजों को किसी को भी दिखाने की अनुमति नहीं है.

भाई का कहना है कि परिवार ने सबिया के सहयोगी को रात 10 बजे फोन किया, जिसने कहा कि वह कुछ काम से पुलिस स्टेशन गई है और “उसने हमें आश्वासन दिया कि वह ठीक है, और कुछ समय में वापस आ जाएगी.

पीडिता के भाई ने कहा, “जब उसने हमें आश्वासन दिया, तो हम उम्मीद कर रहे थे कि वह कुछ समय में वापस आ जाएगी, लेकिन अगली सुबह, दो पुलिसकर्मी उनके घर आए और उनसे सबिया के शव को पहचानने और लेने के लिए कहा.

परिवार ने कहा कि वे पिछले चार दिनों से विरोध कर रहे हैं, लेकिन अधिकारी उनकी सुनने के लिए उनके पास नहीं पहुंचे हैं. परिजन अब मामले की सीबीआई जांच की मांग कर रहे हैं.

सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो में साबिया का परिवार लोगों से मदद की भीख मांग रहा है क्योंकि अबतक इंसाफ के लिए कोई बड़े कदम नहीं उठाए गए हैं.

तक हार कर परिवार ने कहा है कि अगर इंसाफ ना मिला तो पूरा परिवार जंतरमंतर पर आत्महत्या करेगा.

सबिया सैफी के घर पहुंचे Congress नेता Ali Mehdi और Boxer Vijendra Singh, CBI जांच की मांग की

दिल्ली कांग्रेस उपाध्यक्ष अली मेंहदी और बॉक्सर विजेंद्र सिंह ने सबिया सैफी के परिवार से मिलकर इस मामले की सीबीआई जांच की मांग की हैं।

कांग्रेस नेता अली मेंहदी के अनुसार “देश की बेटी सबिया सैफी को इंसाफ़ दिलाने को लेकर उनके मातापिता और भाई से कांग्रेस का एक प्रतिनिधिमंडल जिसमें मेरे साथ विजेंद्र सिंह ,ज़िला अध्यक्ष और अन्य साथी मिलने गए। हम CBI जाँच की माँग करते है और दोषियों को फाँसी की सज़ा की भी पुरज़ोर माँग करते है।”

बॉक्सर विजेंद्र सिंह ने पीड़ित के लिए न्याय की मांग करते हुए कहा कि “बहन राबिया के गुनाहगारो को फांसी दो। आज संगम विहार में दरिंदगी की शिकार राबिया के परिवार वालों से मुलाकात की। इस तरह की घटनाएं दिल्ली में थमने का नाम ही नही ले रही हैं। यह किसकी जिम्मेदारी है।”

Share and Enjoy !

Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares