भील प्रदेश” बनाने की मांग को लेकर भील प्रदेश मुक्ति मोर्चा के बैनर तले आदिवासी समाज ने राजस्थान सहित चार राज्यों में राष्ट्रपति के नाम सौंपा ज्ञापन*

मुक्ति मोर्चा एवं आदिवासी समाज के बैनर तले ज्ञापन सौंपा।

ढुंगुरपुर राजस्थान से प्रफुल चौबीसा की रिपोर्ट

मुक्ति मोर्चा एवं आदिवासी समाज के बैनर तले ज्ञापन सौंपा।

गोंडवाना लैंड से पृथक हुए भारतीय खंड के पर्यावरण जैव मंडल में मूलवंश, भीलवंश एवं उप समूह की भीली बोली, भीली संस्कार, भीली पूजा पद्धति, भीली विवाह पद्धति, गणतंत्र समाज व्यवस्था के अस्तित्व की रक्षार्थ यानी “भीली अस्मिता” के संरक्षण हेतु अलग “भील प्रदेश राज्य” बनाने की मांग को लेकर प्रदेश में गुरुवार को कई जिलों में जिला मुख्यालय सहित उपखंड मुख्यालय एवं तहसील मुख्यालय पर राष्ट्रपति के नाम भील प्रदेश मुक्ति मोर्चा एवं आदिवासी समाज के बैनर तले ज्ञापन सौंपा। गुरुवार को राजस्थान,

मुक्ति मोर्चा एवं आदिवासी समाज के बैनर तले ज्ञापन सौंपा।

गुजरात, मध्यप्रदेश व महाराष्ट्र राज्य के 42 जिलों के 150 से अधिक उपखंड मुख्यालयों पर अलग भील प्रदेश बनाने की मांग को लेकर ज्ञापन सौंपा गया। राजस्थान में उदयपुर संभाग के डूंगरपुर, बांसवाड़ा, उदयपुर, प्रतापगढ़, चितौड़गढ़, राजसमंद सहित सिरोही, जालौर, बाड़मेर, पाली जिलों में उपखंड स्तर से लेकर तहसील स्तर तक राष्ट्रपति के नाम उपखंड अधिकारी एवं तहसीलदार को ज्ञापन प्रेषित किए गए। ज्ञापन के माध्यम से आदिवासी समाज एवं अनुसूचित क्षेत्र तथा भीली संस्कृति व भीली अस्मिता को बचाने हेतु अलग भील प्रदेश बनाने की मांग की गई।
भील प्रदेश मुक्ति मोर्चा के नेतृत्व में
एसडीएम को राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में बताया कि पिछले लंबे समय से पुरखो द्वारा अलग भील प्रदेश बनाने की मांग की जा रही है जिसके तहत आज गुरुवार को प्रदेश सहित 4 राज्यों के 42 से अधिक जिलों के जिला मुख्यालय, उपखंड मुख्यालय एवं तहसील स्तर पर अलग भील प्रदेश बनाने की मांग को लेकर ज्ञापन सोपें गए है भील प्रदेश मुक्ति मोर्चा के वभील प्रदेश मुक्ति मोर्चा के बेनर तले पृथक भील प्रदेश राज्य के लिए एसडीएम कार्यालय आसपुर में ज्ञापन सौंपा गया
उमेश जी डामोर, हीरालाल हरमोर खरोडिया, रमेश जी खराड़ी,गोरव जी, चन्द्र कान्त जी संजय ननोमा रतनलाल जी,सेकंडों समाज के कार्यकर्ता ने राष्ट्रपति के नाम से एसडीएम को ज्ञापन सोपा आदिवासी परिवार के सामाजिक कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

Share and Enjoy !

Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares