अनुच्छेद 370 हटने के बाद से कितने बाहरी लोगों ने कश्मीर में खरीदें प्लॉट? केंद्र सरकार ने दी हैरान कर देने वाली जानकारी

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर से धारा 370 ह’टाई थी, इसे 2 साल से ज्यादा हो चुके है. धारा 370 ह’टाते वक्त कहा गया कि अब जम्मू-कश्मीर से बाहर के लोग भी धरती पर स्थित जन्नत कहीं जाने वाले इस जगह पर जमीन खरीद सकेंगे और जहां निवेश कर सकते है. इस दौरान कई तरह की बातें सामने आई, कहा गया कि इस फैसले के बाद जम्मू-कश्मीर में भारी निवेश देखने को मिलेगा.

लेकिन अब केंद्र सरकार की तरफ से जो जानकरी सामने आई है वो काफी हैरान करने वाली है. बताया जा रहा है कि धारा 370 ह’टाए जाने के बाद से अब तक यानि पिछले 2 साल से भी अधिक समय में सिर्फ 7 प्लॉट जम्मू-कश्मीर के बाहर के व्यक्तियों द्वारा यहां खरीदे गए है.

कश्मीर में नहीं ली किसी बाहरी ने जमीन

आपको बता दें कि ये सभी 7 प्लॉट जम्मू डिवीजन में स्थित है यानि बीते 2 सालों से भी अधिक वक्त में कश्मीर में किसी भी बाहर व्यक्ति द्वारा जमीन या घर नहीं खरीदा गया.

बुधवार 15 दिसंबर को केंद्रीय गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय ने एक लिखित जवाब में ये जानकरी राज्यसभा में रखी. सरकार से सवाल किया गया था कि जम्मू-कश्मीर में ज़मीन की बिक्री खरीद की स्तिथि क्या है?

क्या राज्य से बाहर के किसी शख्स द्वारा अब तक जम्मू-कश्मीर में कोई संपत्ति या जमीन खरीदी गई है? और अगर खरीदी गई है तो उसका ब्यौरा क्या है?

इसका जवाब देते हुए राज्यमंत्री नित्यानंद राय ने बताया कि जम्मू-कश्मीर सरकार द्वारा दी गई जानकरी के मुताबिक अनुच्छेद 370 की समा’प्ति के बाद से केंद्रशासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर में बाहरी व्यक्तियों ने कुल सात प्लॉट खरीदे हैं, जो जम्मू डिवीजन में लिए गए है.

यूजर ने आगे लिखा कि ये जानकारी गृह मंत्रालय ने राज्यसभा में दी है. अब सवाल ये आता है कि ना ही आ’तंक’वाद कम हुआ और ना ही किसी बाहरी व्यक्ति द्वारा यहां जमीन खरीदी गई तो फिर अनुच्छेद 370 ह’टाने से हासिल क्या हुआ?

Share and Enjoy !

Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares